Foreign policy of India

भारतीय विदेश नीति 

यह वह माध्यम है जिसके द्वारा कोई भी राष्ट्र अपने हितों को साधने की कोशिश करता है।

विदेश नीति प्रत्येक राष्ट्र का प्रमुख हथियार है।

भारत की विदेश नीति की विशेषताएँ -

  • तटस्थता
  • गुट निरपेक्षता
  • सांस्कृतिक सद्भाव
  • शांति की भावना 
  • एफ्रो एशियाई झुकाव 
  • तृतीय विश्व का नेतृत्व
  • गैर उपनिवेशवाद 
  • गैर नस्लवाद 
  • संयुक्त राष्ट्र संघ के प्रति आदर 
  • पारस्परिक सहयोग की भावना

पंचशील सिद्धान्त -

  • यह सिद्धांत पं. जवाहरलाल नेहरू द्वारा चीन के प्रधानमंत्री चाउ एन लाई के साथ 1954 ई. में दिए गए।
  • यह निम्न प्रकार है -
  •  अनाक्रमण
  •  अहस्तक्षेप 
  •  समानता एवं पारस्परिक लाभ 
  •  शांतिपूर्ण सअस्तित्व
  •  प्रादेशिक अखंडता एवं सर्वोच्च सत्ता के लिए पारस्परिक सम्मान की भावना।

विदेश नीति से सम्बंधित तथ्य -

  • विदेश नीति के निर्धारक पं. जवाहरलाल नेहरू है।
  • गुजराल सिद्धांत पूर्व प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल ने दिया।
  • भारतीय विदेश नीति गुट निरपेक्षता की नीति है।

भारतीय राजव्यवस्था में वरीयता क्रम

वरीयता क्रम -

भारतीय राजव्यवस्था में विभिन्न पदाधिकारियों का वरीयता क्रम -

  • राष्ट्रपति
  • उपराष्ट्रपति 
  • प्रधानमंत्री 
  • राज्यों के राज्यपाल, अपने राज्यों में 
  • भूतपूर्व राष्ट्रपति
  • उप प्रधानमंत्री
  • भारत का मुख्य न्यायाधीश तथा लोक सभाध्यक्ष
  • केंद्रीय कैबिनेट मंत्री राज्य के मुख्यमंत्री अपने-अपने राज्यों में, योजना आयोग का उपाध्यक्ष, पूर्व प्रधानमंत्री तथा संसद के विपक्ष का नेता
  • भारत रत्न सम्मान के धारक
  • राजदूत 
  • उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश 
  • मुख्य निर्वाचन आयुक्त तथा भारत का नियंत्रक महालेखा परीक्षक 
  • राज्यसभा का उपसभापति लोकसभा का उपाध्यक्ष, योजना आयोग के सदस्य तथा केंद्र में राज्यमंत्री।

Post a Comment

If you have any doubts, Please let me know

नया पेज पुराने